Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

दोस्त ने माँ को कुतिया बनाकर चोदा

एक जबरदस्त सच्ची घटना, जिसमे मेरी माँ की चूत और गांड चोदी गई माँ को कुतिया बनाकर। मेरे घर पर में, पापा और माँ रहती है। पापा का बिजनेस है और मेरी माँ ग्रहणी है और में कॉलेज के पहले साल में हूँ। मेरी माँ की उम्र 40 है और वो बहुत मस्त लगती है। माँ के बड़े बड़े बूब्स है और पीछे मस्त गांड, सच बताऊँ तो मेरे पापा बहुत किस्मत वाले होंगे जो मेरी माँ जैसा माल उन्हें चोदने को मिला। पापा ने हाल ही में तीन महीने पहले हम सबको दिल्ली में भेज दिया और दिल्ली आने के बाद मेरी माँ का जीने का तरीका बिल्कुल बदल गया था। उनकी अब किसी से कोई बातचित नहीं होती थी और माँ पूरे दिन भर घर में बोर होते रहती थी, लेकिन मेरा दिल्ली में एकदम सही टाइम-पास चल रहा था। मैंने एक कोचिंग में एड्मिशन ले लिया और में दिन भर घर में रहता था और मौका मिलने पर माँ को बाथरूम में नंगा नहाते हुये भी देखा करता था और मुठ मारता था। साला मेरी गांड में दम ही नहीं था जो में अपनी माँ को सेक्स के लिए तैयार करूं। दोस्तों दिल्ली में मेरा एक बचपन का दोस्त भी अपनी पढ़ाई करने आया हुआ था। वो बचपन में बहुत सीधा-साधा लड़का था, लेकिन दिल्ली आकर वो साला बहुत हरामी हो गया था।

फिर मैंने उसे एक दिन अपने घर पर बुलाया और मेरी माँ उस वक़्त बाथरूम में नहा रही थी और इस बीच मेरा दोस्त कुनाल और में आपस में बचपन की बकचोदियाँ याद कर रहे थे। फिर उससे मैंने पूछा कि दिल्ली आकर तू तो साले बहुत हरामी हो गया है, अब तक तूने कितनी लड़कियों को चोदा? वो बोला कि भाई पूछ मत यहाँ तो बस चुदाई ही चुदाई चल रही है, एक से एक अच्छी माल को में चोद चुका हूँ। बस यार एक आंटी को चोदना बाकी रह गया है, तो मैंने उससे पूछा कि साले तू इतना बड़ा हरामी कैसे बन गया? वो बोला कि बस पूछ मत भाई एक बार चूत का नशा लग जाए फिर पूछ मत, अब बस यार एक आंटी को और बजाना है। अब में बोला कि बेटे इतना आसान नहीं है, किसी आंटी को चोदना बहुत मुश्किल काम है। कुनाल अरे यार तू बस देखता जा, में जल्द ही एक आंटी की चुदाई जरुर करूँगा। फिर उसने मुझसे पूछा कि क्यों तेरा कहीं चक्कर तो नहीं चल रहा? तो मैंने कहा कि नहीं यार बस मुझे भी चोदने के लिए एक आंटी पसंद है, लेकिन में साला कैसे मामला सेट करूं, समझ में ही नहीं आ रहा? वो बोला कि तू घबरा मत, अब तेरा भाई आ गया है सब सेट हो जाएगा और तब तक मेरी माँ बाथरूम से बाहर निकली, वो बस अपनी साड़ी पहनी हुई थी और उसी से अपने बूब्स को ढकी हुई थी और वो भी आधे बाहर ही निकले हुए थे। माँ को पता नहीं था कि कुनाल उस समय घर पर आया हुआ है।

फिर कुनाल ने माँ को नमस्ते कहा और माँ उसका जवाब देते हुए घबराते हुए अपने बेडरूम में चली गयी और थोड़ी देर बाद कुनाल घर से चला गया। फिर उसने रात को मुझे कॉल किया और कहा कि यार जब से तेरी माँ को देखा है मुझे नींद नहीं आ रही है। दोस्तों में पहले बहुत गुस्सा हुआ, लेकिन फिर मैंने कंट्रोल किया और सोचा कि कुनाल ही एक ऐसा रास्ता है जो मुझे मेरी माँ के साथ सेक्स करने का सपना पूरा कराएगा। फिर कुछ देर बाद मैंने कुनाल से कहा कि यही तेरी वो आंटी होगी क्या? तो कुनाल ने खुश होते हुए कहा कि भाई अगर तू मेरी मदद करे तो पक्का हो जाएगी। फिर मैंने कुनाल से कहा कि भाई मुझे भी इसे ही चोदना है। कुनाल ने बहुत हैरान होते हुआ कहा कि साला तू मादारचोद बनेगा ही सही। फिर अगले दिन कुनाल आया और हम दोनों अपने मिशन को पूरा करने के बारे में सोचने लगे और मैंने कुनाल को सारी बातें बता दी कि माँ का यहाँ कोई पहचान वाला नहीं है, जिसकी वजह से माँ दिन भर बोर होती रहती है। फिर कुनाल बोला कि बेटा यही सही मौका है तेरी माँ की दोनों गेंदो पर में अब पक्का चौका मारूँगा।

फिर कुनाल अगले दिन से मेरे घर पर आने लगा और वो बहुत ही जल्दी माँ के साथ घुल मिल गया। उसने माँ की बहुत मदद की और फिर उसने माँ से पूछा कि आंटी आप यहाँ दिल्ली में रहती हो, लेकिन फिर भी बहुत शांत रहती हो, यहाँ की औरतों की लाइफ बहुत मस्त है और आप भी उनकी तरह रहो। आप दिखने में भी इतनी सुंदर हो कुछ नहीं तो फोटो शूट करवाओ। माँ क्या मतलब फोटो शूट? कुनाल हाँ आंटी में बहुत अच्छा फोटोग्राफर हूँ और आप एकदम सेक्सी लगोगी, अंकल देखेंगे तो चकरा ही जाएँगे। फिर माँ पहले थोड़ा घबराई, लेकिन थोड़ी देर बाद मान गई और कुनाल को कल के लिए हाँ कर दिया और फिर कुनाल बोला कि आंटी में कल अपने केमरे के साथ आ जाऊंगा और आपके लिए एकदम मस्त मस्त हॉट वाले कपड़े भी ले आऊंगा। फिर वो बोली पागला कहीं का और हंसने लगी हाहाहा ठीक है कल मिलती हूँ। अब कुनाल ने मुझसे बोला कि कल तू माँ को बोलना कि घर से बाहर जा रहा हूँ, लेकिन तू जाना मत और घर में ही छुपा रहना और अपनी माँ की चुदाई देखना।

फिर अगले दिन मैंने माँ से बोला कि में बाहर जा रहा हूँ शाम को घर आऊंगा और यह बोलकर मैंने दरवाजा बंद करने की आवाज़ की और जल्दी से माँ के बेड के नीचे छुप गया। तभी दस मिनट में कुनाल आ गया और कुनाल को देखकर माँ बहुत खुश हो गयी। कुनाल ने माँ को फटाफट तैयार होने के लिए बोला और उसने माँ को नहाने के लिए बोला। फिर माँ नहाकर पांच मिनट में साड़ी पहनकर बाहर आ गई और उस साड़ी को देखकर कुनाल बोला कि आंटी आप इसे बदल लो, में आपके लिए नयी साड़ी लेकर आया हूँ। फिर माँ दूसरे रूम में साड़ी लेकर चली गयी और उसे बदल कर आ गई, लेकिन माँ अपनी नयी साड़ी के साथ ब्लाउज ले जाना भूल गयी थी इसलिए माँ ने कुनाल को आवाज़ दी, लेकिन कुनाल ने माँ की आवाज़ को अनसुना कर दिया और उसने अपने कान में ईयरफोन लगा लिए थोड़ी देर बाद माँ बेडरूम में आ गई वो क्या मस्त लग रही थी।

दोस्तों सफेद कलर की छोटी सी ब्रा और पीछे से एकदम पूरी गांड दिखाने वाली पेंटी माँ रूम में बहुत शरमाते हुए अंदर आई और वो अब कुनाल के सामने ही अपने बाकी के कपड़े पहनने लगी और अब वो बहुत नाराज़ होकर कुनाल से बोली कि में तेरे चक्कर में तेरे सामने आधी नंगी आ गई। फिर कुनाल बोला कि अरे आंटी वो तो वैसे भी होना है फोटो शूट में बिकिनी शॉट नहीं दिया तो फिर क्या दिया? फिर माँ उसकी बात को सुनकर बहुत हैरान होते हुए बोली कि तू क्या मुझे नंगी करके फोटो लेगा? कुनाल तो इसमे हैरानी की क्या बात है और अब मुझसे क्या शरमाना, मैंने आपको आधी नंगी तो देख ही लिया है। फिर माँ ने पूछा कि कुनाल तुझे किस टाइप की फोटोशूट करनी है? आंटी मुझे इंडियन सेक्स थीम पर फोटोग्राफी करनी है, मेरा यह जो ग्राहक है वो साउथ अफ्रिका के है और उनके लिये एक हॉट सेक्सी इंडियन ब्यूटी की फोटोशूट करनी है। आंटी मुझे आपसे उम्मीद है कि आप ऐसे पोज़ दे जिसे देखते ही लोग आपके साथ सेक्स करने की सोचे, मेरा मतलब एकदम हॉट सेक्सी। फिर माँ थोड़ा सा घबराई, लेकिन फिर हंसते हुए बोली कि चल तू यह बता कि करना कैसे है?

फिर कुनाल उन्हें समझाने लगा कि आंटी आप पहले पूरी साड़ी पहन लो और उसके बाद आपको धीरे धीरे अपने सारे कपड़े केमरे के सामने उतारने होंगे और फिर में आखरी में आपको बिकिनी में शूट करूँगा। फिर माँ बोली कि ऐसा कैसे हो सकता है? किसी ने यहाँ पर यह सब देख तो फिर मेरी क्या इज़्ज़त रह जाएगी? तो कुनाल बोला कि आंटी यह फोटो यहाँ नहीं रिलीज होगी यह सब सिर्फ़ साउथ अफ्रिका में जाएँगी और सिर्फ़ वहां के कुछ चुनिंदा लोग ही इसे रखेंगे। फिर माँ बोली कि पता नहीं यह सब कैसे होगा, मुझे तो बहुत डर लग रहा है ना जाने इससे क्या होगा? फिर कुनाल कहने लगा कि इसमे डरने की क्या बात है आंटी, बस फोटोशूट ही तो होगा और आंटी अगर यह फोटो ग्राहक को पसंद आ गया तो मेरा भविष्य सेट हो जाएगा और फिर माँ ने यह बात सुनकर हाँ कह दिया। अब कुनाल ने रूम की सभी लाईट चालू कि और माँ को विश्वास के साथ केमरे के सामने आने को कहा पहले माँ ब्लू कलर की साड़ी में थी और कुनाल ने माँ की साड़ी में 3-4 फोटो ले ली और फिर उसने माँ को धीरे धीरे अपनी साड़ी उतारने को कहा। अब माँ बिना झिझक के अपनी साड़ी को उतारने लगी, जिसकी वजह से माँ के बड़े बड़े बूब्स ब्लाउज से साफ साफ दिख रहे थे।

फिर कुनाल ने माँ का साड़ी और ब्लाउज में फोटो लिया और फिर उसने माँ से कहा कि आंटी थोड़ा सा आप अपने बूब्स को और दिखाओ तो माँ हल्का सा शरमाई, लेकिन उसने झुककर अपने बूब्स का नजारा दिखाया और कुनाल का लंड इतने में खड़ा दिख रहा था। फिर कुनाल ने माँ को अपना ब्लाउज उतारने को कहा और माँ ने शरमाते हुए अपना ब्लाउज उतार दिया। अब माँ बस सफेद कलर की ब्रा में थी और नीचे नीले कलर की साड़ी पहनी हुई थी। दोस्तों माँ का बदन क्या मस्त था? फिर कुनाल ने माँ के बूब्स के कुछ क्लोज़अप लिए। अब माँ का डर पहले से थोड़ा कम हो गया था और इस बीच कुनाल ने माँ को अपनी साड़ी पेटीकोट भी खोलने को कहा, लेकिन माँ मना करने लगी और वो बोली कि बेटा में ऐसा कैसे कर सकती हूँ, ऐसा में आज तक बस एक ही मर्द के सामने करती हूँ और वो मेरे पति है। गैर मर्द के साथ में ऐसा नहीं कर सकती। फिर कुनाल ने माँ से कहा कि आंटी क्या बिना मतलब की बातें कर रही हो।

अभी कुछ देर पहले तो आपको मैंने ब्रा पेंटी में देखा था फिर अब क्यों आप नाटक कर रही हो, आपको मैंने देख ही लिया है और आपको मेरे अलावा बस साउथ अफ्रिकन ही देखेंगे और वो भी फोटो में, इसमें मेरे भविष्य का कुछ तो सोचो आंटी। अब माँ ने फिर से पहले सोचा और हंसते हुए हाँ कर दिया और धीरे से अपना पेटीकोट भी उतार दिया। अब माँ सिर्फ़ ब्रा पेंटी में खड़ी थी और फिर कुनाल ने माँ को कुछ विदेशी लड़कियों के बिकनी फोटोशूट दिखाए और माँ को बिल्कुल वैसे ही पोज़ करने को कहा। फोटो में लड़कियों ने 15-20 शॉट के बाद अपनी ब्रा की डोरी निकाली हुई थी, जिसे देखकर माँ घबरा गई थी, लेकिन वो फिर भी अपनी ब्रा की डोरी उतारने लगी, लेकिन ब्रा की डोरी बहुत ही टाईट थी, इसलिए वो उतार नहीं पा रही थी और यह देखकर कुनाल माँ के पास गया और उसने ब्रा का हुक खोल दिया। माँ अचानक से चकित हो गयी, लेकिन गुस्सा नहीं किया।

माँ को कुतिया
फिर कुनाल बोला कि आंटी अब आप आराम से ब्रा की डोरी को नीचे उतार सकती हो। फिर माँ ने ब्रा की दोनों डोरी को नीचे उतारते हुए फोटो ली और कभी वो अपने आधे बूब्स दिखाती थी तो कभी अपनी कमर। फिर कुछ फोटो लेने के बाद विदेशी लड़कियों के फोटो कलेक्शन में उन्होंने अपनी ब्रा को उतार दिया और वो बस अपने हाथों से केवल बूब्स की निप्पल को छुपा रही थी और माँ वो सब देखकर बिल्कुल नर्वस हो गई थी, लेकिन इस बार उसने खुद ही अपनी ब्रा को कुनाल के सामने उतार दिया। कुनाल और मैंने माँ के निप्पल देख लिए थे और माँ ने जल्दी से अपने हाथों से निप्पल को ढका और केमरे की तरफ देखा तो कुनाल ने सिर्फ़ बूब्स के फोटो लिए और फिर आगे की विदेशी लड़कियों के फोटो में उन्होंने अपनी पेंटी को भी उतार दिया था और एक हाथ से वो अपने दोनों बूब्स छुपाए थे और एक से अपनी चूत। अब माँ कुनाल की तरफ देख रही थी और कुनाल ने बहुत उदास सा चेहरा बना रखा था, उसने माँ से कहा कि बात तो बराबर ही है आंटी, हाथ से अपने सामान को ढको या छोटे से कपड़े से, में कुछ देख थोड़ी रहा हूँ और फिर माँ को इस बात से थोड़ा जोश आ गया, लेकिन फिर माँ ने कुनाल से कहा कि में अगर मेरी पेंटी को उतार दूँगी तो तू मेरा आगे का सामान या पीछे का इनमे से कोई एक तो देख ही लेगा क्योंकि एक से में अपने बूब्स ढककर रखूँगी और एक से अपनी चूत या गांड।

फिर कुनाल ने बोला कि आंटी आपकी मर्ज़ी है और वैसे भी में कोई बुरी नज़र से आपको थोड़ी देखूँगा, आप तो मेरी माँ के समान हो और यह बात सुनकर माँ को थोड़ा विश्वास मिला, वो कुनाल की तरफ अपनी पीठ की और पेंटी को उतार दिया कुनाल ने फटाफट माँ की गांड की दो फोटो ले ली और माँ शरमाकर लाल हो गई थी, क्योंकि वो अब कुनाल के सामने बिल्कुल नंगी थी। अब कुनाल ने फोटो लेना शुरू किया और फिर वो अचानक से रुक गया और बोला कि आंटी लगता है आप यहाँ पर अकेली नंगी हो इसलिए घबरा रही हो रूको में भी अपने कपड़े उतार देता हूँ, जब तक माँ कुछ बोलती उसने उससे पहले ही तुरंत अपने सारे कपड़े उतार दिया और अपना लंबा सा लंड माँ को दिखा दिया और यह सब देखकर माँ बहुत ज़्यादा शरमा रही थी, लेकिन उसने भी अपने बूब्स कुनाल को दिखा दिए और फोटो लेने को कहा और ऐसे करते करते उनकी फोटोशूट ख़त्म हो गई। अब कुनाल ने माँ को धन्यवाद कहा और कुछ खाने के लिए लाने को कहा। फिर माँ ने सबसे पहले अपने कपड़े पहनना शुरू किया। तभी कुनाल ने माँ से कहा कि आंटी आप अपने कपड़े बाद में पहन लेना, पहले प्लीज चलो कुछ हम दोनों खा लेते है। अब माँ भी शायद यही सोच रही होगी कि इसने तो सब कुछ देख ही लिया, बस चूत नहीं देखी इसके सामने नंगी रहने में कोई आपत्ति नहीं है। फिर माँ ने खुद के लिए और कुनाल के लिए खाना निकाला और दोनों साथ में नंगे होकर डाइनिंग टेबल पर खाने लगे और इसके बाद उनकी बातें होने लगी।

कुनाल : क्यों आंटी आपको मेरा फोटोशूट करने का तरीका कैसा लगा?

माँ : हाँ मुझे तुम्हारा काम करने का तरीका बहुत अच्छा लगा, वैसे भी यहाँ पर में दिन भर अकेले बोर होते रहती हूँ, आज का दिन कैसे बीत गया मुझे पता भी नहीं चला।

कुनाल : अंकल तो शाम को ही आते होंगे, आप सच में बहुत बोर होती होगी, कुछ अलग किया करो।

माँ : सोच रही हूँ, लेकिन घर का काम रहता है इसमे ही व्यस्त रहती हूँ।

कुनाल : यही समस्या है इंडिया की औरतों में दिन भर बस घर संभालती है बाहर की औरतों को देखो वो कितनी खुली होती है, मौज़ मस्ती ऐश करके रहती है।

माँ : उदास होते हुए कुनाल की हर एक बात पर हाँ में हाँ मिलाई।

कुनाल : आंटी क्या में आपसे एक बात कहूँ?

माँ : हाँ बोलो।

कुनाल : आपका बदन बहुत ही अच्छा है अंकल बहुत ही किस्मत वाले है जो उन्हें आप जैसी बीवी मिली है, उनकी सेक्स लाइफ को अपने जन्नत बना दिया होगा।

माँ : हाहाहा हाँ वो तो है जो उन्हें मुझ जैसी बीवी मिली।

कुनाल : अंकल को बाहर किसी दूसरी औरत के साथ सेक्स करने की ज़रूरत ही नहीं होती होगी, क्योंकि इतनी बड़ी पटाखा उनके साथ उनके घर में ही है।

माँ : वो बाहर किसी के साथ सेक्स क्यों करेंगे, ऐसा पाप है इससे समाज में बहुत बदनामी होती है।

कुनाल : काहे का पाप आंटी और काहे की बदनामी, सेक्स करके समाज को बताने की क्या ज़रूरत है और ज़िंदगी भर एक के साथ सेक्स करने का भी क्या मज़ा, वैसे क्या आपने अंकल के अलावा और किसी से कभी चुदवाया है?

माँ : तू अब में ऐसी कैसी बातें कर रहा है, में एक शादीशुदा औरत हूँ और मेरे जिस्म पर सिर्फ़ मेरे पति का हक़ है।

कुनाल : क्या आंटी बस आपने अंकल के साथ ही सेक्स किया है कभी दूसरे के लंड को भी चखकर देखो, सच में आपको ऐसा करने में बहुत मज़ा आएगा।

माँ : तू क्या आज बिल्कुल पागल हो गया है जो ऐसी बातें कर रहा है और किसी को पता चल गया तो मुहं दिखाने लायक नहीं रहेंगे।

कुनाल : क्या आंटी आप भी अजीब पागल जैसी बातें कर रही हो, अगर मान लो में आपके साथ अभी सेक्स कर भी लूँगा तो किसी को क्या पता चलने वाला है, में कहीं बाहर किसी को बताने वाला नहीं हूँ और आप भी कहीं नहीं बताओगी।

माँ : हे राम, तू मेरे साथ सेक्स करने की बात सोच रहा?

कुनाल : तो इसमे हर्ज़ ही क्या है? आंटी मैंने आपका पूरा जिस्म तो देख ही लिया है बस आपके साथ मज़ा करना ही तो बाकी रह गया है और आप भी सोचो कि आपकी चूत में आज एक नया लंड जाएगा और आपने ज़िंदगी भर बस एक ही लंड का मज़ा लिया है, आज कुछ नया करने की कोशिश तो करो, मुझे भी एक आंटी को चोदना है, आप मेरा वो सपना पूरा कर दो।

माँ : क्यों तूने अब तक कितनी लड़कियों के साथ सेक्स किया है?

कुनाल : 8 लड़कियों के साथ, लेकिन मैंने आज तक एक भी आंटी को नहीं चोदा, आपको जब से उस दिन नहाकर बाहर निकलते हुए देखा है कसम से में आपको चोदने का ही सपना देख रहा हूँ।

माँ : तो फिर चलो मेरे बेडरूम में, आज अपने पति को धोखा दे ही देती हूँ और वैसे भी उनको पता थोड़ी चलने वाला है कि मैंने किसी साथ के साथ कुछ ऐसा वैसा गलत काम किया है।

दोस्तों मेरी माँ के मुहं से यह शब्द सुनकर कुनाल की खुशी का ठिकाना नहीं था और उसने फटाफट माँ की चूत के दर्शन किए और टेबल पर ही उसने माँ की चूत में उंगली घुसा दी, माँ ने कहा कि कुनाल अंदर बेडरूम में चलो फिर जो भी तुम्हे मेरे साथ करना है कर लेना। फिर कुनाल ने माँ के दोनों पैरों को अलग किया और उसने अपने लंड का टोपा माँ की चूत में डाल दिया।

माँ : यह क्या कर रहा है प्लीज थोड़ा आराम से कुनाल उफफ्फ्फ्फ़ प्लीज धीरे आईईईई बहुत दर्द हो रहा है, हम दोनों बहुत मस्ती करेंगे, लेकिन पहले तू बेडरूम तो चल।

कुनाल : नहीं आंटी आपका कोई भरोसा नहीं है कहीं अपना विचार बदल गया तो मेरे खड़े लंड पर धोखा कर सकती हो और मेरा लंड पहले जैसा प्यासा ही रह जाएगा।

माँ : हंसते हुए बोली कि अच्छा ठीक है फटाफट घुसा और अपने दो धक्के मारकर बेड पर चल, आज में पराए मर्द से जरुर अपनी चुदाई करवाउंगी।

फिर कुनाल ने फटाफट अपना लंड चूत के अंदर डालकर दो धक्के मारे और बोला कि चलो आंटी अब मुझे राहत मिल गई। मुझे बस एक बार आपकी चूत में अपना लंड डालना था और फिर उसने माँ को गोद में उठा लिया और बेड पर पटक दिया। फिर कुनाल ने केमरा बंद करने के बहाने केमरा चालू कर दिया ताकि वो वीडियो बनाकर माँ को ब्लॅकमेल करके बाद में भी चोद सके। फिर माँ को उसने बेड पर लेटा दिया और वो बहुत ज़ोर से किस कर रहा था और माँ भी उसका पूरा साथ दे रही थी फिर माँ ने उसको अपने बूब्स चूसने का कहा।

कुनाल : शाबास आंटी हाँ ऐसे ही सेक्स करो, आपको बड़ा मज़ा आएगा।

माँ : कुनाल थोड़ा सीधा हो, हम आज जमकर सेक्स करते है।

कुनाल : आंटी में आज आपको एक रंडी कुतिया की तरह चोदूंगा और बिना कंडोम लगाए आपकी चूत को चोदकर में अपना वीर्य अंदर डालूँगा।

माँ : हाँ बेटा आज पहली बार अपने पति के अलावा किसी से चुद रही हूँ और इसे तू यादगार चुदाई बना दे।

अब कुनाल माँ के दोनों बड़े बड़े बूब्स को हाथों से दबा रहा था और माँ की आँखों में आँखें डालकर बातें कर रहा था।

आंटी : क्यों कैसा लग रहा है एक पराए मर्द के साथ यह सब करते हुए?

माँ : में सच कहूँ तो शुरू में मुझे थोड़ी घबराहट थी, लेकिन अब बहुत मज़ा आ रहा है और अब देख में तुझे जन्नत की सेर करती हूँ।

फिर माँ ने कुनाल को नीचे बेड पर पटक दिया और वो खुद उसके ऊपर चढ़कर उसके जिस्म का मज़ा ले रही थी। फिर माँ ने कुनाल के चेहरे को अपने बूब्स से दबा दिया और माँ के इतने बड़े बूब्स थे कि कुनाल को साँसे लेने में दिक्कत हो रही थी। फिर कुनाल ने जोश में आकर माँ से कहा कि आप भी क्या ग़ज़ब की रांड हो आंटी, पहले तो में आपको बहुत सीधा समझता था, लेकिन अब में आपको पूरी तरह से समझ चुका हूँ कि आपको क्या चाहिए?

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published.